पहला कदम फाउंडेशन का नशामुक्ति अभियान ................

पहला कदम फाउंडेशन का नशामुक्ति अभियान ................
पहला कदम फाउंडेशन का नशामुक्ति अभियान ................

पहला कदम फाउंडेशन का नशामुक्ति अभियान ................ 
महात्मा ज्योतिबा फुले कि पुण्यतिथि पर उनको याद किया


जींद :-पहला कदम फाउंडेशन व पी टी उषा ओपन ग्रुप तथा  सुभाष चन्द्र बोस ओपन ग्रप  द्वारा आज महात्मा ज्योतिबा फुले कि पुण्यतिथि पर उनको याद किया गया व बच्चों द्वारा इस अवसर पर नशा मुक्ति अभियान चलाया गया ।कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में चैरमैन राजेश वशिष्ठ ने शिरकत की ।उन्होंने बताया कि आज का दिन भारत में पहला विद्यालय खोलने वाले महात्मा ज्योतिबा फुले को समर्पित है जिनका जन्म पुणे में हुआ था। उनकी माता का नाम चिमणाबाई तथा पिता का नाम गोविन्दराव था। उनका परिवार कई पीढ़ी पहले माली का काम करता था। वे सातारा से पुणे फूल लाकर फूलों के गजरे आदि बनाने का काम करते थे इसलिए उनकी पीढ़ी 'फुले' के नाम से जानी जाती थी। ज्योतिबा बहुत बुद्धिमान थे।उन्होंने मराठी में अध्ययन किया। वे महान क्रांतिकारी, भारतीय विचारक, समाजसेवी, लेखक एवं दार्शनिक थे। 1840 में ज्योतिबा का विवाह सावित्रीबाई से हुआ था। स्त्रियों की शिक्षा को लेकर लोग उदासीन थे, ऐसे में ज्योतिबा फुले ने समाज को इन कुरीतियों से मुक्त करने के लिए बड़े पैमाने पर आंदोलन चलाए। उन्होंने महाराष्ट्र में सर्वप्रथम महिला शिक्षा तथा अछूतोद्धार का काम आरंभ किया था। उन्होंने पुणे में लड़कियों के लिए भारत की पहला विद्यालय खोला। 1888 में उन्हें 'महात्मा' की उपाधि दी गई थी। ज्योतिराव गोविंदराव फुले की मृत्यु 28 नवंबर 1890 को पुणे में हुई।पहला कदम फाउंडेशन द्वारा लोगो को नशा से होने वाले दुष्परिणाम से अवगत करवाया गया व बच्चों को शपथ दिलाई गयी। इस अवसर पर अंकुश, माफी, पूजा, रचना, शीतल, प्रीती, मंजू, पिंकी, , नूतन, साक्षी, ,निकिता ,जिया ,ममता ,सविता ,संगीता ,मुस्कान ,मुस्कान ,रचना ,रितिका ,रेखा उपस्थित रहे।  
  

What's Your Reaction?

like
3
dislike
1
love
1
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0